Tag: भाषांतर

भैयादादा

रंगपुर के छोटे स्टेशन पर तीन लोग अधिकारी सहज गुस्ताख से खड़े थे। दूर से आये हुए देहाती लोग,अन्य गाँवों के यात्री और पहली बार ही गाड़ी में मुसाफ़री करने आयी हुई स्त्रियाँ, सैंकड़ों में भी अलग थलग नजर आनेवाले तीन गृहस्थों…Read More »