Tag: कथोपकथन

सुराबों तक ले आने वाली शायरा : देवी नागरानी

न्यूयार्क ! दोपहर का समय,  मैं अपने ‘सिन्दूरी शाम’ प्रोग्राम के आयोजन में व्यस्थ थी. फोन की घंटी बजी और आपकी मधुर आवाज़ सुनाई दी|  और मेरी पहली मुलाकात उनसे उसी आयोजित कार्यक्रम में ११  नवंबर 2008 में हुई।  श्री सत्यनारायण मंदिर,…Read More »