हेमंत फाउंडेशन द्वारा प्रदान किए जाने वाले पुरस्कारों के अंतर्गत 20वाँ विजय वर्मा कथा सम्मान लखनऊ की किरण सिंह को उनके कहानी संग्रह “यीशू की कीलें” के लिए देने का निर्णय पुरस्कार के सम्माननीय निर्णायकों द्वारा लिया गया। इस संग्रह  की सभी कहानियाँ अपने वर्तमान समय से टकराती हैं, और उनमें ज़मीनी सच्चाई दृष्टिगोचर  होती है। वे अपनी हर कहानी पर एक नई भाषा के साथ  जूझती नज़र आती हैं। उनके  पास कथा कहने की एक गहरी समझ है। जो पाठकों को अपनी ओर खींचती है। उनकी कहानियाँ पढ़कर सहज ही समझ में  आता है कि वे साहित्य  जगत में आगे तक जाएगी।
 17 वाँ हेमंत स्मृति कविता सम्मान मुंबई की श्रीमती सुमीता प्रवीण केशवा को उनके कविता संग्रह” चाय की चुस्कियों में तुम” पर देने का निर्णय लिया गया है। सुमीता की कविताओं के लिए कहा जा सकता है आज तक नारी जिन समस्याओं को झेलती आई है ,उनकी कविताओं ने न केवल उन समस्याओं के उत्तर ढूंढे हैं बल्कि, उन समस्याओं को लेकर हार नहीं मानी है। उनकी कविताओं में स्त्री विमर्श है। जिसमें असीम दर्द, करुणा और हर परिस्थिति में सकारात्मक परिवर्तन लाने की जद्दोजहद दिखती है ।
संस्था की संस्थापक अध्यक्ष डॉ संतोष श्रीवास्तव तथा महासचिव डॉ प्रमिला वर्मा ने यह घोषणा की है। पुरस्कार संयोजक श्री भारत भारद्वाज ने अपनी संक्षिप्त टिप्पणी में दोनों लेखकों के उज्ज्वल भविष्य की कामना व्यक्त की है।
  समारोह  2 फरवरी  2019 को जेजेटी विश्वविद्यालय ,विद्या नगरी ,चुरू( राजस्थान) में  मुख्य अतिथि श्री प्रबोध कुमार गोविल, अध्यक्ष  श्री मीठेश निर्मोही, सारस्वत अतिथि  डॉ विनोद टीबड़ेवाला की गरिमामय उपस्थिति में आयोजित होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *